संत श्री आशारामजी आश्रम, सेंदरी, रतनपुर रोड, बिलासपुर, छत्तीसगढ़ में श्री रामाभाई के सान्निध्य में किया गया सत्संग ।

संत श्री आशारामजी आश्रम, सेंदरी, रतनपुर रोड, बिलासपुर, छत्तीसगढ़ में श्री रामाभाई के सान्निध्य में किया गया सत्संग ।

Print
189 Rate this article:
No rating
Please login or register to post comments.

Popular

जब गुरू के ऊपर कीचड़ उछाला जायेगा, मेवाभगत पलायन हो जाएँगे, सेवाभगत ही टिकेंगे।

जब गुरू के ऊपर कीचड़ उछाला जायेगा, मेवाभगत पलायन हो जाएँगे, सेवाभगत ही टिकेंगे।

तत्त्वज्ञानी गुरु मिल भी गये तो उनमें श्रद्धा होना और सदा के लिए टिकना दुर्लभ है।

तत्त्वज्ञानी गुरु मिल भी गये तो उनमें श्रद्धा होना और सदा के लिए टिकना दुर्लभ है।

RSS