Thought For The Day

वाणी में विवेकपूर्ण मधुरता, प्रियता ओर सत्यता का सामंजस्य होने के कारण जीवन में दक्षता आती है |

तुलसी मीठे वचन ते, सुख उपजत चहुँ ओर वशीकरण यह मंत्र है, तज दे वचन कठोर।

Print
668 Rate this article:
2.0
Please login or register to post comments.