Sant Shri
  Asharamji Ashram

     Official Website
 
 

Register

 

Login

Follow Us At      
40+ Years, Over 425 Ashrams, more than 1400 Samitis and 17000+ Balsanskars, 50+ Gurukuls. Millions of Sadhaks and Followers.

Lok Kalyan Setu in Ordiya

Lokkalyan Article View
कैसी विलक्षण व्यवस्था

 परमहंस योगानंद के बचपन का नाम मुकुंद था । एक बार मुकुंद अपने गुरुभाई जितेन्द्र के साथ बड़े भाई अनंत के घर आगरा गये । अनंत ने मुकुंद की ईश्वरनिष्ठा पर प्रश्नचिह्न लगाते हुए कहा - ''बातें करना आसान है । यदि तुम्हें भोजन व आश्रय के लिए ईश्वर के आश्रित रहना पड़े तो तुम्हारी क्या हालत होगी! शीघ्र ही तुम सड़कों पर भीख माँगते फिरोगे ।''

गुरु युक्तेश्वर गिरि के ईश्वरपरायण शिष्य मुकुंद ने उत्तर दिया - ''कदापि नहीं ! ईश्वर को छोड़कर किसी पथिक से कोई आशा मैं कदापि नहीं करता । भगवान अपने भक्त के लिए भिक्षापात्र के अलावा भी हजार अन्य उपाय कर सकते हैं।''
''यदि मैं कहूँ कि तुम जिस तत्त्वज्ञान के बारे में इतनी डींग मार रहे हो, उसे इस मूर्त जगत में आजमाया जाय तो ?''
''तो मैं तुरंत... 
(शेष भाग पढ़ने हेतु देखें लोक कल्याण सेतु अंक – 179, मई 2012)
 


View Details: 1864
print
rating
  Comments

  6/22/2013 10:44:51 PM
ankita 


New Comment 
i want to give matrimonial ads in lok kalyan setu what is the process
  6/20/2013 11:05:24 AM
kavita negi 


how to give matrimonial ads in lok kalyan setu 
Hariom om ji.I want to give matrimonial ads in lok kalyan kalyan setu.what is the process.
  6/6/2013 9:07:08 PM
neeraj 


how to give matrimonial ads in lok kalyan setu 
hariom, i want to give matrimonial ads in lok kalyan setu.what is the process.
  5/30/2013 8:03:35 PM
SD Vashisht 


New Comment 
Hariom Om ji. What I should I do for publication of matrimonial in Lok Kalyan Setu.

Your Name
Email
Website
Title
Comment
CAPTCHA image
Enter the code
Subsribe for LKS
Minimize

Copyright © Shri Yoga Vedanta Ashram. All rights reserved. The Official website of Param Pujya Bapuji