Sant Shri
  Asharamji Ashram

     Official Website
 
 

Register

 

Login

Follow Us At      
40+ Years, Over 425 Ashrams, more than 1400 Samitis and 17000+ Balsanskars, 50+ Gurukuls. Millions of Sadhaks and Followers.

Lok Kalyan Setu in Ordiya

Lokkalyan Article View
मन-मंदिर में होती है महापूजा

 पूजा का मुख्य उद्देश्य भावों का उदात्तीकरण और अपनी अंतरंग यात्रा है। इष्ट के बाह्य स्वरूप का  स्मरण-चिंतन करते-करते उनके वास्तविक स्वरूप में चित्त को टिकाकर अंतरात्मा में विश्राम पाना है । इस रहस्य को जाननेवाले ब्रह्मज्ञानी महापुरुष पूज्य बापूजी बाह्य उपचारोंवाली पूजा से भी अधिक लाभ देनेवाली और स्थूल सामग्रियों की आवश्यकता न रहने के कारण अमीर-गरीब हर किसीके लिए सहज-सुलभ ऐसी मानस-पूजारूपी अंतरंग साधना पर विशेष जोर देते हैं । गुरुपूर्णिमा महापर्व की महिमा व उसमें मानस-पूजा का महत्त्व तथा विधि बताते हुए व्यासस्वरूप सद्गुरु पूज्य बापूजी कहते हैं - ''गुरुपूर्णिमा अर्थात् गुरु के पूजन का पर्व । किंतु आज सब लोग अगर गुरु को नहलाने लग जायें, तिलक करने लग जायें, हार पहनाने लग जायें तो यह सम्भव नहीं है । लेकिन षोडशोपचार की पूजा से भी अधिक फल देनेवाली मानस-पूजा करने से तो भाई ! स्वयं गुरु भी नहीं रोक सकते, मानस-पूजा का अधिकार तो सबके पास है ।

महिमावान श्री सद्गुरुदेव के पावन चरणकमलों का मन-ही-मन षोडशोपचार से पूजन करने से साधक-शिष्य का हृदय शीघ्र शुध्द और उन्नत हो जाता है । मानस-पूजा इस प्रकार कर सकते हैं...
(शेष भाग पढ़ने हेतु देखें लोक कल्याण सेतु अंक – 179, मई 2012)
 


View Details: 1151
print
rating
  Comments

  2/25/2013 11:36:50 AM
jqtvgkliovh 


New Comment 
Fp5a0X <a href="http://geijzyutrjbi.com/">geijzyutrjbi</a>
  2/21/2013 11:16:20 AM
Elena 


New Comment 
Tip top stuff. I'll epxect more now.
  8/24/2012 3:22:56 AM
Anonymous 


Appane antar aatam ki puja hi sharav sheshth hai. 
Kuki prakruti her ka kankan main parmatam hia
  8/9/2012 10:23:09 PM
Lurdes 


New Comment 
I just hope whoever writes these keeps wtriing more!

Your Name
Email
Website
Title
Comment
CAPTCHA image
Enter the code
Subsribe for LKS
Minimize

Copyright © Shri Yoga Vedanta Ashram. All rights reserved. The Official website of Param Pujya Bapuji