Latest Sadhaks Blog Posts

Poverty
- by naomiyang
0 63

पूर्वकृत पुण्यों की रक्षा करें

पूर्वकृत पुण्यों की रक्षा करें
/ Categories: Sadhak Kya Karen
Visit Author's Profile: AshishAdmin

पूर्वकृत पुण्यों की रक्षा करें

इतना भी न कर सकें तो महापुरुषों एवं उनके सेवाभावी शिष्यों की निंदा करके अपने स्वास्थ्य, आयु, आनंद, शांति व सौभाग्य का तो नाश न करें। अपने पूर्वकृत पुण्यों की रक्षा करना यह भी एक प्रकार की सेवा ही मानी जा सकती है।
Print
3216 Rate this article:
No rating
Please login or register to post comments.