Pujya Asaram Bapu ji (आसाराम बापू जी) Darshan Wallpaper 14th August 2013

Admin 0 3849 Article rating: No rating

 स्वतंत्रता की बलिवेदी पर चढनेवाले भारत के वीरों के हाथों में होती थी श्रीमद्भगवद्गीता एवं मुख में होता था यही श्लोक : नैनं छिन्दन्ति शस्त्राणि... ऐसे वीर भी एक-दो नहीं वरन् हजारों की संख्या में होते थे ।

Pujya Asaram Bapu ji (आसाराम बापू जी) Darshan Wallpaper 15th August 2013

Admin 0 3933 Article rating: No rating

 आजादी के इस पैगाम को सुननेवालों ! आप वास्तव में आजाद ही हो किन्तु आपके दुर्बल विचार, दुर्बल वासनाएँ एवं दुर्बल बनानेवाले संस्कार ही आपको बाँधे हुए

Pujya Asaram Baapu ji (आसाराम बापू जी) Darshan Wallpaper 18th August 2013

Admin 0 4787 Article rating: No rating

 सत्यस्वरूप महापुरुष का प्रेम सुख-दुःख में समान रहता है, सब अवस्थाओं में हमारे अनुकूल रहता है | हृदय का एकमात्र विश्रामस्थल वह प्रेम है | वृद्धावस्

RSS
123578910Last